जानिए इंटरनेट सेक्स एडिक्शन के लक्षणों के बारे में #loveromance
September 29th, 2020 | Post by :- | 100 Views

इंटरनेट के बहुत से फायदे होते हैं साथ ही इसके नुकसान भी होते हैं। आजकल लोग खासकर युवा इंटरनेट सेक्स एडिक्शन का शिकार हो रहे हैं। इसमें युवा इंटरनेट की वर्चुअल सेक्स की दुनिया में खो जाता है जो उनकी शारीरिक और मानसिक क्षमता पर नकरात्मक प्रभाव डालता है। इंटरनेट सेक्स एडिक्शन को साइबरसेक्स के नाम से भी जाना जाता है। तो आइए जानते हैं उन लक्षणों के बारे में जो इस लत से परेशान लोगों में दिखाई देते हैं।

आइए जानते हैं इनके लक्षणों के बारे में:

  • जो लोग इंटरनेट से सेक्स करने के आदी होते हैं उनका ज्यादातार समय इंटरनेट पर विडियो देखने में बिताता है। उन्हें हमेशा सेक्स संबंधित कन्टेंट देखने की इच्छा होती है।
  • इंटरनेट सेक्स के आदी हुए लोग हमेशा ऑनलाइन सेक्स चैट में खुद को व्यस्त रखते हैं। उनके लिए यह सेक्सुअल फैंटेसी का आनंद लेने का एक आसान तरीका होता है।
  • ऐसे लोग ऑनलाइन सेक्स चैट और ऑनलाइन सेक्सुअल एक्टिवीटी में व्यस्त रहते हैं और समय के महत्व को भूल जाते हैं। उन्हें किसी जगह की भी परवाह नहीं होती है। इस प्रकार का व्यवहार उनके काम और पारिवारिक जीवन को भी प्रभावित करता है।
  • यदि उन्हें इंटरनेट नहीं मिलता हैं तो वे हमेशा चिड़चिड़ापन और परेशान महसूस करते हैं। यह उनके लिए एक दवा की तरह है जिसके बिना वह सामान्य लोगों की तरह नहीं रह पाते हैं।
  • जो लोग इंटरनेट सेक्स एडिक्ट होते हैं वे अपनी जिंदगी में खुशी की कमी महसूस करते हैं। वे अपनी वर्चुअल सेक्स लाइफ के साथ अपने वास्तविक जीवन की तुलना करना शुरू कर देते हैं, जो उन्हें असंतुष्ट महसूस कराता है।
  • ऐसे लोगों के दिमाग में हमेशा सेक्स से जुड़ी बात आते रहती है।
  • इंटरनेट सेक्स एडिक्ट लोगों को अगर ऐसी बात बोल दी जाए कि वह अपना सारा समय इंटरनेट पर बिताते हैं तो उनका व्यवहार दूसरों के प्रति असामान्य हो जाता है। उन्हें हमेशा पकड़े जाने का डर होता है और इस कारण लोगों को उन पर संदेह होता है।
  • इंटरनेट सेक्स एडिक्ट लोगों को अपराधबोध की भावना होती है, लेकिन वे इंटरनेट पर सेक्स करने की अपनी इच्छाशक्ति को नियंत्रित नहीं कर पाते हैं।
  • सेक्सुअल कॉन्टेंट देखने के लिए वे एक्स-रेटेड इंटरनेट वेबसाइट्स पर भी अत्यधिक पैसा खर्च करते हैं।
  • इंटरनेट पर समय व्यतीत करने के कारण वे परिवार और दोस्तों के साथ अपने संबंध तोड़ देते हैं। जिसकी वजह से वे अकेला महसूस करते हैं और इंटरनेट को ही एकमात्र साथी मानने लगते हैं। वे इंटरनेट पर अपने यौन विचारों और कल्पनाओं को साझा करते हैं।