ऑनलाइन पार्टनर की तलाश कर रहे हैं तो इन बातों का रखें ध्‍यान …. #loveromance
November 8th, 2020 | Post by :- | 149 Views

आज के समय में ऑनलाइन चीजों का जमाना होने के चलते लोगों में इसका काफी क्रेज है। वे अलग-अलग चीजें खरीदने के साथ अब तो ऑनलाइन रिश्ते भी ढूंढने लगे हैं। ऐसे में वे अपने लिए परफेक्ट पार्टनर तलाशने के लिए मैट्रिमोनियल साइट्स पर अपना बायोडाटा भर देते हैं। इसतरह वे अपने मनपसंद साथी को चुक कर उससे शादी कर अपना घर बसाते हैं। मगर फिर भी ऐसे किसी के साथ रिश्ता बनाने के लिए थोड़ा सोचने व समझने की जरूरत होती है। कभी जल्दबाजी के चक्कर में जीवनभर पछताना भी पड़ सकता है। इसलिए जरूरी है कि इसतरह सोशल साइड्स से पार्टनर की तलाश पूरी होने पर उनसे फर्सट मीटिंग में ही कुछ बातों को क्लीयर कर लें। ताकि बाद भी गलती होने या धोखा मिलने का कोई चांस न रहें।

बात अगर मैट्रिमोनियल साइट्स की करें तो उसको लेकर कोई न कोई गलत खबर देखने व सुनने को मिलती रहती है। ऐसे में पूरी तरह अलर्ट होकर ही शादी से जुड़ा कोई फैसला लेना बेहतर रहेगा। अगर कहीं आप अपने लिए ऑनलाइन पार्टनर की तलाश में हैं तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि जीवनसाथी को चुनने से पहले किन बातों को विशेष ध्यान देना चाहिए।

पर्सनल डिटेल शेयर न करें

किसी से भी ऑनलाइन बात करने में कोई बुराई नहीं है। मगर किसी पर जल्दी विश्वास कर उसे अपने बारे में सब कुछ बता देना गलत है। ऐसे टाइम में एकदम से सामने वाले को अपनी पर्सनल डिटेल देने की जल्दबाजी न करें। सामने वाले को पहले अच्छे से देख- परख व समझ लें। फिर धीरे-धीरे एक-दूसरे को समझते हुए बात को आगे बढ़ाए और शादी का फैसला लें।

करियर को लेकर करें बात

अक्सर लड़कियां ऑनलाइन किसी से बात कर इंप्रेस हो जाती है। उसके बाद सीधा शादी के बारे में सोचने लगती है। मगर ऐसा सोचना गलत है। असल में, जो लड़कियां जॉब करती है। उनमें से बहुत सी लड़कियों को शादी के बाद ससुराल वालों के कहने पर नौकरी छोड़नी पड़ती है। ऐसे में इस बात कोई चिंता हो इसके लिए पार्टनर को समझने के साथ उससे करियर को लेकर भी बात कर लेनी चाहिए। ताकि बाद में कोई परेशानी न हो।

जल्दबाजी में शादी का फैसला न लें

सामने वाला चाहें जितना मर्जी अच्छा बिहेव करें। शादी के बाद आपको प्यार व खुशी से रखने का वादा करें। मगर फिर जल्दबाजी में शादी करने का फैसला लेने से बचें। पार्टनर व उसके परिवार के बारे में जांच- पड़ताल कर पुरी तसल्ली से ही रिश्ते की बात आगे बढ़ाएं।

एक-दूसरे के परिवार व रीति-रिवाजों को जानें

शादी एक ऐसा बंधन है जिसमें 2 लोग नहीं बल्कि परिवार जुड़ते हैं। ऐसे में शादी करने से पहले परिवार वालों की राय लेना भी बेहद जरूरी होता है। उन्हें आपसे ज्यादा समझ होने से वे आपकी जिंदगी के बारे में बेहतर फैसला ले सकते हैं। इसलिए शादी से पहले पार्टनर के परिवार वालों को अच्छे से समझ लें। उनसे घुल-मिल कर उनकी संस्कृति व रीति-रिवाजों को देख व जान ले। असल में, शादी के बाद ससुराल वालों के रीति-रिवाजों के मुताबिक ही चलना पड़ता है। नहीं तो सभ्यता व संस्कृति अलग होने से शादी के बाद एडजस्ट होने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।