शिशु की नाभि से कैसे जुड़ा है उसका स्वास्थ्य? हर माता-पिता को जाननी चाहिए ये खास बातें …
November 20th, 2020 | Post by :- | 88 Views

बेबी बेली बटन के बारे में तो सभी जानते होंगे। अगर नहीं जानते तो इस बारे में आपको जानना बहुत जरुरी है कि यह क्या होता है और इसकी देख रेख कैसे करना चाहिए। बेबी बेली बटन की देखरेख क्यों आवश्यक है? आज हम यहाँ बेबी बेली बटन के बारे में जानेंगे। जब शिशु जन्म लेता है तब बेबी बेली बटन की देखरेख बहुत ज्यादा जरुरी होती है क्योंकि उस दौरान यह बहुत नाजुक होती है अगर ठीक प्रकार से इसकी देखरेख न की जाये तो बच्चे की नाभि में सूजन आ सकती है।

बेबी बेली बटन क्या होता है:

बेबी बेली बटन को ही नाभि कहा जाता है। जिसकी देखरेख बहुत जरुरी होती है। शिशु जब जन्म लेता है उस दौरान शिशु की नाभि नाजुक होती है  कभी कभी नाभि में सूजन आ जाती है या पानी भर जाता है। जिससे शिशु को तकलीफ होती है। इसलिए बेबी बेली बटन को साफ़ रखना और इसका ध्यान रखना बहुत जरुरी है।

कैसे करें बेबी बेली बटन की सफाई:

  • बेबी बेली बटन की सफाई करने के लिए आप रुई के फाहे में हल्का सा सरसों का तेल लगायें और फिर इससे नाभि की सफाई करें और जितना हो सकता है इसे सूखा रखें।
  • कोर्ड के गीले हो जाने पर इसको धीरे-धीरे थपथपाएं जिससे इसका पानी आसानी से निकल जाये।
  • बच्चे को जब भी डायपर पहनाये तो ध्यान रहे कि वह नाभि पर न हो।
  • नहलाते समय हलके से शिशु की नाभि को साफ़ करें और फिर उससे अच्छे से सूखने दे।

इस प्रकार से आप अपने शिशु के बेबी बेली बटन का ध्यान रख सकते हैं। और अपने शिशु को स्वास्थ्य रख सकते हैं। जब तक शिशु की गर्भनाल नहीं गिरती तक शिशु को ज्यादा परेशानी होती है और इसके कुछ दिन बाद जब नाभि का वह हिस्सा सूख जाता है तो शिशु आराम की सांस लेता है।

कई बार ऐसा होता है कि शिशु की नाभि बाहर की और निकली दिखाई देती है और ये इसलिए होता है कि जन्म के समय शिशु की नाभि के ऊपर ध्यान नहीं दिया जाता और नाभि ऊपर की और उभर आती है। वैसे इससे कोई परेशानी नहीं है लेकिन वह देखने में अच्छी नहीं प्रतीत होती। और उसमें पानी भरने का डर भी बना रहता है। इन सभी परेशानियों से बचने के लिए नाभि को साफ़ करना चाहिए।

शिशु जब छोटा होता है तभी इन उसके बेबी बेली बटन पर ध्यान देना जरुरी है। इसके लिए आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते हैं कि कैसे इसका ध्यान रखा जाये। नाभि, मानव शरीर का एक छोटा और महत्वपूर्णहीन लगने वाला हिस्सा, माँ के शरीर के अंदर बढ़ते बच्चे को पोषण प्रदान करने का मार्ग होता है। कई बार ऐसा होता है कि हमें ठीक से नहीं पता होता कि किस प्रकार शिशु की नाभि की सफाई की जाये तो डॉक्टर की सलाह से आपको सही तरीके का पता चल जायेगा। बच्चे की नाभि बहुत ही नाजुक होती है इसलिए इस पर किसी प्रकार दवाब देकर इसकी सफाई न करें।