कहीं आप भी शिशु की इन 9 अजीब हरकतों से हैरान-परेशान तो नहीं, जानें किन बातों का इशारा हैं शिशु के ये संकेत ..
November 20th, 2020 | Post by :- | 61 Views

जब आप का बच्चा कभी कभार बहुत अजीब हरकतें करता है जैसे हाथों को अजीब तरह से हिलाना या उनके चेहरे के एक्सप्रेशन किसी एक समय पर अलग हो जाना, तो हो सकता है वह आप को कुछ संकेत देना चाहते हों। कई बार बच्चे यह चीजें करते बहुत क्यूट लगते हैं लेकिन यह सब इशारे करके वह आप को कुछ बताना चाहते हैं। आप को उनके इन संकेतों को समझना चाहिए।

यदि वह अपने हाथों को इधर उधर बहुत तेजी से घुमाता है और साथ में मुंह से  आवाजें भी निकालता है तो इस का अर्थ होता है कि अब आप को उसका डाइपर बदल देना चाहिए। जी हां आप को यह संकेत अवश्य समझना चाहिए अन्यथा बच्चा परेशान हो जायेगा। यदि आप यह नहीं समझेंगी तो वह आप का ध्यान आकर्षित करने के लिए विभिन्न हरकतें करेगा। उनमें से कुछ अजीबो-गरीब हरकतें जो बच्चे करते हैं इस प्रकार हैं।

1. आँखों को ऊपर चढ़ाना

नए-नए माँ-बाप बने लोग जब बच्चे को आँखे ऊपर करते हुए देखते हैं तो वे डर जाते हैं। यह बहुत ही नार्मल होता है। लेकिन अगर शिशु की आंखें देर तक चढ़ी रहें साथ ही उसे सांस लेने में तकलीफ हो, तो आपको तुरंत चिकित्सक के पास पहुंचना चाहिए।

2. हाथ और पैर का हिलना

बच्चा हाथ और पैर को झटके से तब हिलाता हैं जब वह तेज आवाज सुनता है या उसका कोई अंग अचानक से हिलने लगता है। यह नवजात बच्चे के तंत्रिका तंत्र के विकास के कारण होता है।

3. तेज सांस लेना

अपने शुरुआती जीवन में बच्चों को सांस लेते समय कई बार परेशानी होती है। वे कभी-कभी तेजी से भी सांस ले सकते हैं या वे 10 सेकंड के लिए सांस लेना बंद भी कर सकते हैं!

4. गैस छोड़ना

न केवल बड़े ही बल्कि बच्चे भी गैस छोड़ते है। इससे कभी-कभी अजीब आवाज निकलती है और उनका पोश्चर भी अजीब बनता है। गैस छोड़ने का कोई निश्चित अर्थ नहीं है। लेकिन अगर बच्चा बार-बार गैस छोड़ रहा है, तो ये उसके पेट की गड़बड़ी का इशारा हो सकता है।

5. छींकना/ हिचकी लेना

माता-पिता के लिए अपने बच्चे को छींकना या दिन में कई बार हिचकी लेते हुए देखना उनके लिए काफी परेशान करने वाली बात हो सकती है। जब ऐसी चीज हो तो इसके लिए कोई दवा नही की जाती है। फीडिंग के बाद अच्छी डकार आना और बच्चे को ठंडी हवा / धूल से दूर रखना ही इस केस में काफी होता है।

6. किसी चीज का सहारा लेना

जब आप का बच्चा लगभग 10 महीने का हो जाता है तो वह स्वयं को खड़ा करने के लिए किसी भी चीज जैसे फर्नीचर आदि का सहारा लेने लग जाता है। इसका अर्थ होता है कि वह चलना सीख रहा है और आप को इसमें उसकी मदद करनी चाहिए।

7. मुस्कुराना

2 महीने का होने पर जब बच्चा अपनी माँ को देखता है तो वह मुस्कुराता है लेकिन नवजात बच्चा तब भी मुस्कुरा सकता है जब वह सो रहा होता है या जब वह उठने वाला होता है या जब वह गैस छोड़ता है। यह बहुत ही नार्मल चीज है।

8. आपका ध्यान खींचना

यदि आप का बच्चा कभी अचानक से खांसने लगता है तो समझ जायें कि यह बच्चे का तरीका है आपका ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए। वह यह सब जानकर करता है।

9. योनि स्राव

यह नवजात बच्चियों में ही देखा जाता है। कभी-कभी दूध जैसा द्रव योनि से निकलते हुए देखा जा सकता है। योनि से निकलने वाला यह स्राव सफ़ेद हो सकता है या कभी-कभी लाल भी हो सकता है। यह प्रसव के बाद माँ के हार्मोन के कारण होता है और पूरी तरह से नार्मल होता है।

-डॉक्टर पी श्वेता रैडी, एमबीबीएस, डीएनबी, पीडियाट्रिक्स अपोलो टेली हेल्थ, से बातचीत पर आधारित।