आपका ब्वॉयफ्रेंड कहीं आपका इस्तेमाल तो नहीं कर रहा, जानिए ऐसे ..
November 26th, 2020 | Post by :- | 273 Views

आप किसी लडक़े से बेइंतेहा प्यार करती हैं, और चाहती हैं कि वो भी आपको उतना ही प्यार करे, आपकी देखभाल करे लेकिन उसकी ओर से प्यार वाली फिलिंग नहीं आती हैं या कभी कभी होती हैं और आपको उस पर, उसके प्यार पर कभी कभी डॉप्ट होता है तो ये संकेत आपके लिए सही नहीं हैं।

आप लम्बे समय से किसी लडक़े के साथ रिलेशन में हैं लेकिन उसके बावजूद भी आपको लगता है कि आपका बॉयफ्रेंड आपको वक्त नहीं दे पा रहा है या काफी समय हो जाने के बाद भी आप श्योर नहीं हैं कि आपका रिश्ता कहां तक चलेगा।

आपको लगता है कि आपका बॉयफ्रेंड आपको उतना महत्व नहीं दे रहा है जितना आप उसे दे रही हैं या जितना आपको उस रिश्ते में मिलना चाहिए तो ये संकेत आपके रिश्ते के लिए खतरे की घंटी हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे संकेत बता रहा हूं जिनसे आप ये पता लगा सकती हैं कि आपका बॉयफ्रेंड आपसे सच्चा प्यार करता है या सिर्फ आपके साथ टाइमपास कर रहा है और आपको इस्तेमाल रहा है।

सिर्फ जरुरत के समय आपको याद करे…
अगर आपका बॉयफ्रेंड आपसे तब प्यार का दिखावा करे जब उसे आपसे कोई काम हो या जब वह आपसे मिलना चाहता हो या वो आपके साथ सेक्स करना चाहता हो और काम निकल जाने के बाद या आपसे मिलने के बाद फिर कई दिन तक आपसे कोई कनेक्शन ना करे।

आपको इगनोर करे या आपको उससे कोई काम है या आप उससे मिलना चाहती हैं। लेकिन वो कोई बहाना करके आपको मना कर देता है, या आपको उससे कोई मदद चाहिए तो कोई ना कोई बहाना बना देता है, तो आपको समझ जाना चाहिए कि आप उसके लिए एक जरुरत की चीज की तरह हैं,जिसे वह अपनी जरुरत के हिसाब से इस्तेमाल कर कर रहा है।

पब्लिक पैसेल पर मिलने के बजाय रूम पर या होटल में मिलने कहे…
प्यार करने वाले ज्यादातर एकांत ही तलाशते हैं लेकिन एकांत का मतलब हमेशा बंद कमरा या सेक्स करना ही नहीं होता है। प्यार में एकांत का मतलब होता है कि जहां दोनों लोग अपने दिल की बात को एक दूसरे से खुलकर कह सकें, खुलकर हंस सकें, खुलकर अपने एहसास को बयां कर सकें।

जहां कोई आपको बात करते हुए कोई परेशान ना करे। लेकिन अगर आपका बॉयफ्रेंड किसी पब्लिक पैलेस जैसे किसी रेस्टोरेंट, पार्क आदि में मिलने के लिए मना करे और अकेले रूम पर या किसी होटल में मिलने की जिद करे तो मतलब साफ है कि वो आपसे सिर्फ शारीरिक संबंध करना चाहता है।

आपके साथ अपने रिश्ते को लेकर समर्पित ना हो…
सच्चे प्यार में जो सबसे जरूरी चीज है वो है एक दूसरे पर भरोसा करना और दोनों का उस रिश्ते को निभाने के लिए समर्पित होना।

जब कोई किसी रिश्ते के लिए पूरी तरह से समर्पित हो जाता है तो उसे उस रिश्ते में बहुत से त्याग करने पड़ते हैं, अपनी बहुत सी आदतों को बदलना पड़ता है, अपनी बहुत सी खुशियों को भूलना पड़ता है, बहुत से ऐसे काम करने पड़ते है जो आपके साथी को खुशी दें, भले ही उनसे आपको खुशी ना मिले। अपने साथी की हर खुशी का ख्याल करना पड़ता है, उसकी फिक्र, उसकी परवाह करनी पड़ती है और अपने रिश्ते को पूरी शिददत और ईमानदारी से निभाना पड़ता है।

अगर आप ऐसा कर रही हैं और आपका बॉयफ्रेंड ऐसा नहीं कर रहा है तो इसका मतलब है कि वो आपके साथ अपने रिश्ते को लेकर समर्पित नहीं है। और उस पर आपके साथ रिश्ता रखने या टूट जाने से कोई फर्क नहीं पडऩे वाला है। अगर आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो समय रहते ही संभल जाइए।

अपनी गलतियों को ना माने…
गलतियां सभी से होती हैं। हर किसी में कोई ना कोई कमी होती है। लेकिन इसका ये मतलब भी नहीं है कि गलतियां करते ही रहें। प्यार में छोटी मोटी गलतियां को नजरअंदाज कर दी जाती हैं। अगर कोई बड़ी गलती है तो उसको बताया जाता है ताकि उसको सुधारा जा सके। और प्यार का मतलब भी यही होता है कि अपनी गलतियों को मानो और उनमें सुधार करो।

अगर आपका बॉयफ्रेंड अपनी गलती मानने को तैयार नहीं होता है और अगर मान भी लेता है तो उनमें सुधार नहीं करता है तो आपके लिये ये खतरे की घंटी है। उसे आपकी खुशी, आपकी भावनाओं की कोई परवाह नहीं है। इसलिये जितनी जल्दी हो सके ऐसे लडक़े से रिश्ता खत्म कर लेना चाहिए।