मर्द जरूर पढ़े ये खबर, किसी वरदान से कम नहीं है ये फल, मर्दाना कमजोरी…
December 1st, 2020 | Post by :- | 121 Views

कटहल को दुनिया के चुनिंदा सबसे बड़े और भारी फलों में गिना जाता है। यह फल पकने पर बहुत ही मीठा और स्वादिष्ठ लगता है। अक्सर लोग कटहल को सब्जी की तरह और एक फल की तरह भी इस्तेमाल करते हैं। तो हुई ना यह बड़े कमाल की चीज! कटहल को एक आयुर्वेदिक औषधि की तरह भी माना जाता है। कटहल में कई तरह के आयुर्वेदिक गुण मौजूद रहते हैं जिसके कारण कई प्रकार की बीमारियां दूर हो सकती हैं। केवल इतना ही नहीं बल्कि खूबसूरती के लिए भी इस फल को काफी गुण वर्धक माना गया है।

डॉक्टर के मुताबिक हमें पौष्टिक आहार की जरूरत रहती है ताकि हमारा शरीर हृष्ट-पुष्ट रह सके। आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि कटहल में कई प्रकार के पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। इस कटहल में मुख्य रूप से विटामिन ए, सी, थायमिन, पोटेशियम कैल्शियम, आयरन, यासीन अदि जैसे तत्व शामिल रहते हैं। इसके इलावा कटहल की एक और खूबी है जिसको हम फाइबर के नाम से जानते हैं। अपने गुणों के कारण ही कटहल को सबसे उत्तम फल माना जाता है।

शरीर में मौजूद हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम एकमात्र उत्तम तत्व है। हड्डियों की मजबूती के लिए कटहल के गुण बेहद अहम हैं। क्या आप जानते हैं कि मुट्ठी भर कटहल में 56.1 मिलीग्राम कैल्शियम मजबूत होता है जिससे आपकी हर रोज की लगभग 6 फ़ीसदी कैल्शियम की कमी दूर होती है।

जैसे कटहल का फल काफी गुणकारी है वैसे ही उसके बीज भी बालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। कटहल के बीज आपके बालों में हो रहे ब्लड सरकुलेशन पर काबू रखता है और साथ ही आपके बालों की चमक पहले से दोगुनी बढ़ा देता है। कटहल में मैगनीज भी पाया जाता है जिसके कारण ब्लड और शुगर कंट्रोल में रहता है।

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि कटहल एंटीऑक्सीडेंट होता है जिसके कारण एंटी कैंसर भी माना जाता है। इसी लिए ये हमारे शरीर पाचन प्रणाली से हर प्रकार के ज़हरीले तत्वों को बाहर निकाल फेंकता है और पाचन दुरुस्त रखता है।

आयुर्वेद के अनुसार कटहल एक ऐसा फल है जो स्पर्म काउंट बढ़ाने के साथ ही कामेच्छा को भी बढ़ाता है। जो पुरुष बांझपन से परेशान है यह फिल्म के लिए काफी मददगार साबित हो सकता है। क्योंकि यह बाँझ पुरुषों में स्पर्म पैदा करता है और साथ ही उनका शीघ्रपतन भी दूर करता है।