Breast Milk: ब्रेस्ट मिल्क को अधिक पौष्टिक कैसे बनाएं
December 7th, 2020 | Post by :- | 229 Views

Breast Milk: शिशु के सही विकास और उसके बढ़ने के लिए स्तनपान ही एक बेहतर विकल्प है। चाहे आप ठीक और संतुलित आहार नहीं भी ले रही हैं, तब भी आपको अपने शिशु को फॉर्मूला मिल्क की बजाय स्तनपान ही कराना चाहिए। ब्रेस्ट मिल्क में फैट, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन्स और ल्यूकोसाइट्स पाएं जाते हैं। ये सभी पोषक तत्व आपके बच्चे के लिए जरुरी है और उसके सही विकास में मदद करते हैं। अगर आप सही आहार नहीं ले रही हैं और अपना ख्याल सही तरीके से नहीं रख रही हैं तो इसका असर आपके ब्रेस्ट मिल्क पर पड़ेगा और शिशु को सही पोषण नहीं मिल पाएगा। शुरुआत के छह महीनों में आपके शिशु के लिए केवल स्तनपान की पोषण पाने का एक जरिया होता है इसलिए जरुरी है कि उसे पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्वों की आपूर्ति हो। आइए जानते हैं कि किन तरीकों से आप ब्रेस्ट मिल्क को अधिक पौष्टिक बना सकती हैं।

Breast Milk: ब्रेस्ट मिल्क को अधिक पौष्टिक बनाने के लिए क्या करें

  • 500 कैलोरी अधिक खाएं
  • प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन
  • पानी की सही मात्रा का सेवन
  • कैफीन का कम सेवन
  • एल्कोहल का सेवन बंद कर दें

500 कैलोरी अधिक खाएं
स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए उनकी दैनिक जरुरत से 500 अधिक कैलोरी का सेवन करना चाहिए। क्योंकि इस दौरान आपके शरीर को अधिक उर्जा की जरुरत होती है। कैलोरी के सेवन के लिए केवल स्वस्थ आहार का ही चुनाव करें।

प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन

ब्रेस्ट मिल्क को अधिक पोषक बनाने के लिए प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें जैसे अंडा, डेयरी उत्पाद, बीन्स, दाल आदि। इसके अलावा संतुलित आहार लें और अपने आहार में फलों और सब्जियों को शामिल करें।

पानी की सही मात्रा का सेवन

स्तनपान कराते समय आपको हाइड्रेटेड रहना जरुरी है। इसलिए सही मात्रा में पानी का सेवन करें। शिशु को स्तनपान कराने के बाद पानी जरुर पिएं।

कैफीन का कम सेवन
अधिक कैफीन का सेवन ना करें। इससे आपके शिशु की सोने की आदत प्रभावित हो सकती है और वह चिड़चिड़ा हो सतकता है। इसलिए दिन में तीन कप कॉफी या चाय से ज्यादा सेवन ना करें।

एल्कोहल का सेवन
स्तनपान के दौरान एल्कोहल के सवन को ना कहें। यह स्तनपान के जरिए शिशु के शरीर में जा सकता है और आपके ब्रेस्ट मिल्क के पोषण को भी कम करता है।