तन और मन की सेहत से जुड़े, सेक्स के 7 बेमिसाल फ़ायदे!
December 16th, 2020 | Post by :- | 163 Views

सेक्स पूरे शरीर की सहभागिता के साथ किया जानेवाला एक मानसिक कार्य है. यही कारण है कि सेक्स न केवल हमारे शरीर के लिए अच्छा व्यायाम साबित होता है, बल्कि हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होता है. इस गतिविधि के दौरान हमारा शरीर जिन केमिकल्स को स्रवित करता है, वे हमारे दिमाग़ को शांत करते हैं और मसल्स को भी. कई डॉक्टर्स तो पति-पत्नी के बीच होनेवाली सेक्स की बारंबारता के आधार पर उनकी सेहत का अंदाज़ा लगाते हैं. जब आप नियमित रूप से सेक्स करते हैं तो यह पता चलता है कि आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ हैं. नियमित रूप से सेक्स करने के तमाम फ़ायदे हैं, यहां हम कुछ के बारे में बात करने जा रहे हैं, जैसे-इम्यूनिटी बढ़ने, तनाव कम होने, हृदय मज़बूत होने, अच्छी नींद आने…आदि.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 1: यह हमारी रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है
पेन्सल्वेनिया की विल्किस यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स की मानें तो जो लोग सप्ताह में कम से कम एक या दो बार सेक्स करते हैं उनके शरीर में इम्यूनोग्लोब्लिन ए का स्तर अधिक होता है. सेक्स वायरस, बैक्टीरिया और जर्म्स से लड़ने की हमारे शरीर की क्षमता को बढ़ाता है, क्योंकि यह उनके ख़िलाफ़ ऐंटी-बॉडीज़ तैयार होने में मदद करता है. यह ऐंटी-बॉडीज़ शरीर की रक्षाप्रणाली की पहली पंक्ति के सिपाही के तौर पर काम करते हैं. जो कपल सेक्शुअली ऐक्टिव होते हैं, वे उन कपल्स की तुलना में कम बीमार पड़ते हैं, जो नियमित रूप से सेक्स नहीं करते.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 2: यह स्ट्रेस भगाने में बेहद कारगर है
सेक्स के दौरान जब आप ऑर्गैज़्म का अनुभव करते हैं, तब आपका शरीर एंडॉर्फ़िन्स और दूसरे फ़ील-गुड हार्मोन्स से भरा होता है. ये हार्मोन्स हमें अच्छा महसूस कराते हैं. हमारे चिंतित दिमाग़ को शांत करते हैं. आपने ख़ुद महसूस किया होगा, कैसे एक थकान भरे दिन के बाद, जब आप पार्टनर के साथ बिस्तर पर अच्छा समय बिताते हैं, तब आपकी सारी चिंता जाती रहती है. आप रिलैक्स्ड अनुभव करते हैं. आपका मूड ख़ुशगवार हो जाता है.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 3: आपके दिल की सेहत के लिए सबसे सस्ती दवाई है यह
आपने सुना ही होगा कि सेक्स एक बेहतरीन व्यायाम है. यह सच है. बेशक यह कॉर्डियो की तरह इंटेंस एक्सरसाइज़ नहीं है, पर सेक्स की गतिविधि से हमारा हार्ट रेट काफ़ी ऊपर चला जाता है, लगभग 120 बीट्स प्रति मिनट तक. हार्ट बीट की इस दर को सौम्य एक्सरसाइज़ के तौर पर देखा जा सकता है. यह वैसा ही है, जैसे क़रीब 15 मिनट में एक किलोमीटर की दूरी तय करना. आपको यह पता ही होगा कि वॉकिंग हमारे हृदय के लिए किए जानेवाले सबसे अच्छे व्यायामों में से एक है. तो अगर आप अपने दिल को तंदुरुस्त रखना चाहते हैं तो पार्टनर से दिल लगाने में कंजूसी न करें.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 4: इससे नींद अच्छी और गहरी आती है
फ़िल्मों में हम देखते हैं कि हीरो-हीरोइन एक-दूसरे को प्यार जताने के बाद, चादर ओढ़कर गहरी नींद में सो जाते हैं. यह होना स्वाभाविक है, क्योंकि सेक्स के दौरान हमारा शरीर ऑक्सिटॉसिन नामक हार्मोन रिलीज़ करता है. यह हार्मोन पार्टनर के साथ अच्छी बॉन्डिंग बनाने में मदद करता है. इसके साथ ही कॉर्टिसॉल नामक एक दूसरा हार्मोन भी रिलीज़ होता है, जो स्ट्रेस भगाने का काम करता है. इन दोनों हार्मोन्स के संयुक्त प्रयास के चलते आपका शरीर प्राकृतिक रूप से रिलैक्स्ड महसूस करता है और आपको नींद आ जाती है. हमें उम्मीद है कि आपको आठ घंटे की भरपूर नींद लेने का जादुई नुस्ख़ा पता चल गया है.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 5: यह महीने के उन दिनों में आपकी मदद करता है
महीने के उन दिनों यानी परियड्स के दौरान आपका पेट फूला हुआ महसूस होता है. आपको चॉकलेट खाने की तलब लगती है. सही समझ रहे हैं आप, आपके मूड का कोई भरोसा नहीं होता. आप इमोशनली झूमते ही रहती हैं यानी मूड स्विंग का सामना कर रही होती हैं. भयंकर पेट दर्द को कम करने के लिए पेनकिलर से लेकर अपनी पसंदीदा आइसक्रीम तक गटकने को तैयार हो जाती हैं. उस दौरान अगर आप पार्टनर के साथ अंतरंग पलों में लीन होती हैं तब ऑर्गैज़्म के चलते डोपामाइन, ऑक्सिटोसिन और एंडॉर्फ़िन्स जैसे हार्मोन्स रिलीज़ होकर पीरियड के दर्द से राहत दिलाते हैं. हालांकि पीरियड सेक्स को लेकर कई लोगों के मन में कई तरह की ग़लतफ़हमियां और धारणाएं होती हैं, जिसके बारे में आप अपनी गायनाकोलॉजिस्ट से खुलकर बात कर सकती हैं.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 6: यह आपके शरीर को टोन करता है
हालांकि हम आपको कभी यह सलाह नहीं देंगे कि फ़िट रहने के लिए जिम को छोड़कर बिस्तर पर ज़्यादा से ज़्यादा समय बिताएं, पर यह भी सच है कि कुछ सेक्स पोज़िशन्स किन्हीं ख़ास मसल्स की एक्सरसाइज़ के लिए बेहतरीन होती है. जैसे अब सबसे प्रचलित मिशनरी पोज़िशन को ही लें, यह हमारे कोर मसल्स के व्यायाम के लिए बेस्ट है. जब दोनों पार्टनर एक-दूसरे की ओर धक्का दे रहे होते हैं तो कोर मसल्स पर काफ़ी दबाव पड़ता है. वहीं डॉगी स्टाइल, जहां महिलाओं को अपने दोनों हाथों और दोनों पैरों की मदद से ख़ुद को स्टैब्लाइज़ करना होता है, में हाथों और पैरों के मसल्स मज़बूत होते हैं.

सेक्स का फ़ायदा नंबर 7: त्वचा को निखारता है और उम्र के निशां कम करता है
गुलाबी गाल, भरे हुए होंठ भला किसे नहीं सुहाते. जब आप सेक्शुअली ऐक्टिव होते हैं तब शरीर में ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है. आपकी त्वचा को पर्याप्त ऑक्सीजन मिलती है, जिससे उसमें नया निखार आता है. आपकी त्वचा अंदर से दमकने लगती है. शरीर के अंदर से तमाम विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं, जिससे होंठ भरे हुए लगते हैं.
रही बात बढ़ती उम्र को रोकने की तो यह सच है कि हम सभी को एक न एक दिन बूढ़ा होना ही है, पर सेक्स बुढ़ापे की गति को कम कर देता है. यह तो माना हुआ फ़ैक्ट है कि सेक्स से कोलैजन का प्रोडक्शन बढ़ता है, जिससे बढ़ती उम्र के निशां कम हो जाते हैं. झुर्रियां कम पड़ती हैं. त्वचा जवां दिखती है.