महिलाएं क्यों कम पसंद करती हैं कैशुअल सेक्स
December 16th, 2020 | Post by :- | 153 Views

‘‘मैं वो इंसान हूं, जिसे प्यार की तलाश है. सच्चा प्यार. जिसमें हम दोनों एक-दूसरे के बिन रह ही न सकें,’’ अक्सर आप अपनी दोस्तों से ये बात सुन सकती हैं. इस उदाहरण से ही समझ में आता है कि कैशुअल सेक्स में महिलाओं की रुचि नहीं होती. पर नारी क्रांति का मक़सद था महिलाओं को इतना स्वतंत्र कर देना कि वे कैशुअल सेक्स का आनंद ले सकें, जैसा कि पुरुष हमेशा से करते आ रहे हैं. लेकिन ब्रिटेन की डरहैम यूनिवर्सिटी के अध्ययन के नतीजे बताते हैं कि वन-नाइट स्टैंड (किसी के साथ केवल एक ही रात गुज़ारना) के बाद महिलाएं नकारात्मक भावना से भर जाती हैं, जिससे साबित होता है कि हम सिर्फ़  मन बहलाने के लिए किए जानेवाले सेक्शुअल संबंधों को स्वीकार नहीं कर पाते. कुल 1,743 लोगों (महिला व पुरुष), जिन्होंने वन-नाइट स्टैंड लिया था, ने इसके बारे में अपनी सोच का मूल्यांकन किया. 54 प्रतिशत महिलाओं ने इस बात के प्रति शर्मिंदगी महसूस की.
‘‘दो वर्ष पहले मेरी एक दोस्त ने मुझे अपने उस दोस्त से मिलवाया, जिसे मैं बहुत पसंद करती थी,’’ कहते हुए रक्षिता पिल्लई, बैंकर, बताती हैं,‘‘हमने डिनर किया और जब उसने मुझे उसके साथ चलने के लिए कहा तो मैंने सोचा,‘मन बहलाने के लिए थोड़ा रोमैंस और फ्लर्ट करने में बुराई ही क्या है?’ हालांकि मुझे उसके साथ रात बिताने का कोई अफ़सोस नहीं है, लेकिन जब उसने अगले दिन मेरा फोन नंबर भी नहीं मांगा तो मेरा दिल टूट गया.’’ रक्षिता को इस बात से और ज़्यादा दुख हुआ कि उसने उसकी दोस्त से भी उसके बारे में किसी तरह की पूछताछ नहीं की. ‘‘उसके लिए तो ये वन-नाइट स्टैंड ही था, जबकि मैं अपने जज़्बात पर नियंत्रण नहीं रख सकी.’’इस सर्वे के नतीजे रक्षिता के अनुभव से मेल खाते हैं.
नतीजों में ये भी कहा गया है कि सर्वे में शामिल महिलाओं को इस सेक्शुअल गतिविधि के छोटा होने से परेशानी नहीं थी, उन्हें दुख इस बात का था कि उस इंसान को उनकी ज़रा भी परवाह नहीं थी.

इसे सही ढंग से करें
इसका मुख्य कारण ये है कि महिलाएं अपनी भावनाओं को लंबे समय तक छुपा नहीं सकतीं. ‘‘अधिकतर महिलाओं के लिए सेक्स केवल एक शारीरिक ज़रूरत ही नहीं है, बल्कि ये उनकी भावनात्मक ज़रूरतों को पूरा करने का ज़रिया भी है,’’ ये कहते हुए साइकियाट्रिस्ट डॉ संजय चुग आगे बताते हैं,‘‘इसलिए महिलाएं कैशुअल सेक्स के बाद उतना अच्छा महसूस नहीं करतीं, जितना कि अपने पार्टनर के साथ सेक्स के बाद करती हैं.’’
टेलीविज़न प्रोड्यूसर पूजा कृष्णमूर्ति तो समझ ही नहीं पा रही हैं कि हम इस बात की चर्चा क्यों कर रहे हैं. ‘‘मैंने दो-तीन बार एक पुरुष के साथ रात बिताई है और हर बार इसका आनंद उठाया. मैं बस ये सुनिश्चित कर लेती हूं कि उसे ये मालूम हो कि मुझे कैसे ख़ुश करना है. कई बार आपको सि़र्फ़ एक तृप्तिदायक सेक्शुअल संबंध की ही ज़रूरत होती है, पर हमें ये भी स्वीकारना होगा कि कैशुअल सेक्स सब के लिए नहीं है,’’ पूजा आगे कहती हैं,‘‘यदि आप अकेला महसूस कर रही हैं और ख़ुद को ख़ुश देखना चाहती हैं तो वन-नाइट स्टैंड आपके लिए नहीं है. इसके बाद आप शर्मिंदगी महसूस करेंगी, क्योंकि आप अकेली हैं और आपको साथी की तलाश है.’’ आप ख़ुद को और उसको इस बात का एहसास दिलाएं कि ये केवल वन-नाइट स्टैंड है. उसके साथ डिनर न करें-इसका सीधा अर्थ है-रोमैंटिक रिश्ता बनाने की कोई कोशिश न करें.
कैशुअल सेक्स के बाद अलग-अलग महिलाओं की प्रतिक्रिया अलग-अलग हो सकती है. अत: यदि आपको ये पता हो कि आपका दिल इसे कैसे स्वीकार करेगा, तभी इस दिशा में क़दम बढ़ाएं.