बालों की ग्रोथ के लिए 10 बेहतरीन फ़ूड्स ..
August 27th, 2020 | Post by :- | 155 Views

आपकी त्वचा की ही तरह आपके बालों की स्थिति आपके अंदर की सेहत को दर्शाता है. इसलिए आपके बालों को भी महत्वपूर्ण पोषण की ज़रूरत होती है. क्या आपको पता है कि आपके बाल सालभर में छह इंच बढ़ते हैं? आपके बालों की ग्रोथ की दर उम्र, सेहत, जेनेटिक्स और डायट से भी प्रभावित होती है. हालांकि आपका आपकी जींस या उम्र पर कोई नियंत्रण नहीं, लेकिन आप यक़ीनन अपने खानपान को दुरुस्त कर सकती हैं. सही न्यूट्रिएंट्स वाली संतुलित डायट का सेवन करने से आपके बालों की ग्रोथ अच्छी हो सकती है, ख़ासतौर पर यदि ख़राब खानपान की वजह से आपके बाल झड़ रहे हों. यहां हम आपको बालों की ग्रोथ के लिए 10 ज़रूरी फ़ूड्स के बारे में बता रहे हैं.

1. ग्रीक योगर्टः गाढ़े प्रोटीन से भरपूर यह सुपरफ़ूड ग्रीक डायट और ईसा पूर्व 500 से अन्य संस्कृतियों का अहम् हिस्सा है. ग्रीक योगर्ट में विटामिन बी5 होता है, जो स्कैल्प में रक्तप्रवाह को बढ़ाता है और बालों की ग्रोथ को प्रोत्साहित करता है.

2. पालकः आयरन की कमी से भी बाल झड़ते हैं. हेयर फ़ॉलिकल औरर रूट्स पोषण युक्त डायट के तहत ही फलते-फूलते हैं. आयरन की कमी से अनीमिया होती है, ‌जो फ़ॉलिकल तक न्यू‌ट्रिएंट्स के सप्लाई में गड़बड़ी पैदा करती है और इससे बालों की ग्रोथ प्रभावित होती है व बाल झड़ना भी शुरू हो जाते हैं. पालक, पौधों से मिलनेवाले आयरन का सबसे समृद्ध स्रोत है. आयरन लाल रक्त कणों को पूरे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने में मदद करता है और मेटाबॉलिज़्म को ऊर्जा प्रदान करता है, जिससे बालों की ग्रोथ और दुरुस्ती का काम सुचारू रूप से चलता है. आयरन के अलावा इन हरी पत्तियों में फ़ोलेट, विटामिन ए और विटामिन सी होता है और ये सभी बालों की ग्रोथ के लिए बहुत अहम हैं. पालक में सीबम भी होता है, जो बालों के लिए नैचुरल कंडिशनर की तरह काम करता है. इसके फ़ायदे यहीं ख़त्म नहीं होते. पालक में ओमेगा-3 एसिड्स, मैग्नीशियम, पोटैशियम, कैल्शियम और आयरन होता है. ग़ौरतलब है कि ये सभी बालों की ग्रोथ के लिए, उन्हें आकर्षक, चमकदार, घना बनाने के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

3. बेरीज़ः अच्छे हेयर डायट में विटामिन सी की भरपूर मात्रा होनी चाहिए, क्योंकि यह कोलेजन के प्रोडक्शन में मदद करता है, जो बालों की लंबाई को पोषण पहुंचानेवाले कैपलरीज़ को मज़बूत बनाता है. बेरीज़ में ऐंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन्स होते हैं, जो बालों की ग्रोथ को प्रोत्साहित करते हैं. स्ट्रॉबेरीज़ में यह विटामिन प्रचुर मात्रा में होता है. यह आयरन के अवशोषण में भी मदद करते हैं, इसलिए विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों को आयरन से भरपूर फ़ूड के साथ लेना चाहिए. विटामिन सी ऐंटीऑक्सिडेंट भी होता है. ब्लैककरेंट और ब्लूबेरीज़ भी विटामिन सी के बेहतरीन स्रोत हैं. आंवला में भी उच्च मात्रा में विटामिन सी और ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं. इसीलिए आयुर्वेद द्वारा इसे दमकती त्वचा और चमकते बालों के लिए सबसे उपयुक्त फ़ूड बताया गया है.

4. अंडेः बाल प्रोटीन से बने होते हैं इसीलिए बालों के सर्वांगीण सेहत के लिए प्रोटीन से भरपूर डायट बहुत अहम है. प्रोटीन की कमी से बाल रूखे और कमज़ोर हो सकते हैं. ज़िंक की कमी से भी बाल झड़ सकते हैं और स्कैल्प रूखा व पपड़ीयुक्त हो सकता है. अंडे प्रोटीन के बेहतरीन स्रोत हैं. इनमें ज़िंक, सेलेनियम और बालों के लिए अन्य सेहतमंद न्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो बालों को सेहतमंद और मज़बूत बनाने के लिए ज़रूरी हैं.

5. एवाकाडो : विटामिन ई कोशिकाओं को दुरुस्त और स्वस्थ करने में मदद करता है. एवाकाडो में भरपूर मात्रा में विटामिन ई होता है. विटामिन ई ऐंटीऑक्सिडेंट है, जो फ्री रैडिकल्स को न्यूट्रलाइज़ करके ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ता है. इसी वजह से यह क्षति से स्कैल्प की सुरक्षा करता है. एवाकाडो में एसेंशियल फ़ैटी एसिड्स होते हैं, जो हमारी कोशिकाओं के निर्माण में अहम भूमिका निभाते हैं. एसेंशियल फ़ैटी एसिड्स की कमी से भी बाल झड़ सकते हैं. तो एवाकाडो को अपनी डायट में न शामिल करने की तो कोई वजह ही नहीं है?

6. नट्सः नट्स बालों के लिए कम कैलोरी वाले और डायट में शामिल करने के लिए आसान विकल्प हैं. इनमें विटामिन ई और बी, ज़िंक और एसेंशियल फ़ैटी एसिड्स की प्रचुर मात्रा होती है, जो कि आपके बालों को सेहतमंद बनाने के लिए ज़रूरी हैं. शोध में पिस्ता का पुरुषों के गंजेपन के इलाज में मदद करने की बात साबित हुई है. वहीं अखरोट में मौजूद तेल बालों को ज़रूरी इलैस्टिन मुहैया कराते हैं. इलैस्टिन बालों को मुलायम बनाता है और बालों का टूटना कम करता है.

7. ओट्सः दिन की शुरुआत करने के लिए नाश्ते में ओटमिल खाना एक अच्छा विकल्प है. ओट्स में ढेर सारे न्यूट्रिएंट्स होते हैं और यह विटामिन बी, ज़िंक और कॉपर का अच्छा स्रोत है. ये सभी माइक्रोन्यूटिएंट्स बालों को सेहतमंद बनाने के लिए ज़रूरी हैं. ओट्स में ओमेगा-3 फ़ैटी एसिड्स और पॉलीअनसैचुरेटेड फ़ैटी एसिड्स (पीयूएफ़एस) होते हैं, जो बालों की ग्रोथ को प्रोत्साहित करते हैं व बालों को मोटा व सेहमंद बनाते हैं. शाकाहारियों के लिए यह डायट्री प्रोटीन का अच्छा स्रोत है.

8. दालः दाल में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, आयरन, ज़िंक और बायोटिन होते हैं. इसके अलावा इनमें फ़ॉलिक एसिड की भी अच्छी मात्रा होती है. हमारे शरीर को लाल रक्त कणों की सेहत को दुरुस्त करने के लिए फ़ॉलिक एसिड की ज़रूरत होती है और लाल रक्त कण हमारे स्कैल्प व त्वचा तक ऑक्सीजन पहुंचाते हैं. मांस-मछली न खानेवालों के लिए यह प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत है.

9. गाजरः गाजर में बीटा-कैरटीन होता है. यह ऐंटीऑक्सिडेंट विटामिन ए में बदल जाता है. यह न केवल आपके बालों को बेजान, रूखा होने से बचाता है, बल्कि साथ ही स्कैल्प के ग्लैंड्स को बालों को सेहतमंद बनाए रखने के लिए ज़रूरी सीबम प्रोड्यूस करने के लिए प्रोत्साहित करता है. रतालू, कद्दू जैसे ज़्यादातर नारंगी रंग के फलों और सब्ज़ियां हमें यह लाभ देती हैं. लेकिन इस मामले में गाजर से बेहतर कुछ भी नहीं.

10. ‌काला तिलः पारंपरिक चाइनीज़ मेडिसिन में बालों के ग्रोथ को बढ़ाने और बालों के नैसर्गिक रंग को बनाए रखने के लिए काले तिल का इस्तेमाल किया जाता है. क्योंकि काले तिल में कॉपर और ज़िंक की अच्छी मात्रा पाई जाती है. कॉपर शरीर के अच्छे संचालन और बालों की ग्रोथ के लिए ज़रूरी है. कॉपर की कमी की वजह से बाल पतले और झड़ सकते हैं. कॉपर से बालों का रंग भी बना रहता है और वक़्त से पहले बाल सफ़ेद भी नहीं होते. वहीं दूसरी ओर ज़िंक बालों की नई कोशिकाओं को प्रोड्यूस करने में अहम भूमिका निभाता है. बालों को चमक देनेवाले ऑयल रिलीज़ करनेवाले ग्लैंड्स के काम को सुचारू रूप से चलाए रखने में भी ज़िंक मदद करता है.