इन हर्ब्‍स को खाने से बढ़ती है फर्टिल‍िटी, जल्‍दी गूजेंगी किलक‍ार‍ियां
August 31st, 2020 | Post by :- | 185 Views

फर्टिलिटी से जुड़ी समस्याओं के कारण कई कपल्‍स को पैरेंट्स बनने में कई समस्‍याएं होने लगती हैं। कई बार हार्मोन्स के सही संतुलन की कमी के कारण गर्भधारण में परेशानी होती है। ऐसे में कुछ आयुर्वेदिक तरीकों और जड़ी-बूटियों की मदद से हार्मोन्स के स्तर को प्रभावित किया जा सकता है। इनसे, तनाव को भी कम करने में सहायता होती है। जो फर्टिलिटी के अलावा इरेक्टाइल डिस्फंक्शन और लो-स्पर्म काउंट जैसी सेक्सुअल हेल्थ प्रॉब्लम्स से भी राहत दिलाता है।

अश्वगंधा

इससे एंडोक्राइन को कार्य करने में मदद होती है और हार्मोन्स का संतुलन भी बढ़ता है। अश्वगंधा के सेवन से से, थायरॉयड और एड्रेनल ग्लैंड को भी कार्य करने में सहायता होती है। इनसे, फर्टिलिटी बढ़ती है।

शतावरी

यह फर्टिलिटी बढ़ाने वाला एक लोकप्रिय हर्ब है। शतावरी में स्टेरॉइडल सैपोनिन्स (steroidal saponins) होते हैं। दो एस्ट्रोजन बढ़ाने का काम करते हैं। इससे, मेंस्ट्रुएशनल साइकल्स को नियमित बनाता है। इससे, ओवैल्युशन भी बढ़ता है।

मिल्क थिसल

इसमें ऐसे तत्व होते हैं, जो शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने का काम करते हैं। इससे, शरीर के अंदर हेल्दी स्पर्म और हेल्दी एग को फर्टिलाइज़ होने के लिए अनुकुल माहौल मिलता है। इससे, गर्भधारण में मदद होती है।

रेड क्लोवर

मैग्नीशियम से भरपूर होने के कारण यह फर्टीलिटी बढ़ाने वाली औषधि बन जाती है। यह हर्ब हार्मोन्स के स्तर को नियमित करता है। जिससे, फैलोपाइन ट्यूब्स को होने वाले नुकसान और डैमेज को रिकवर करने में सहायता होती है।