शारीरिक संबंध एंजॉय करने के मामले में कौन है आगे- वेज या नॉनवेज खाने वाले?
August 31st, 2020 | Post by :- | 248 Views

आमतौर पर लोग शारीरिक संबंध को लेकर बातचीत करना पसंद नहीं करते हैं। वो इस मामले पर खुलकर बात करने से हिचकिचाते हैं। शायद ये भी एक कारण है कि सेक्स के साथ कई झूठ और अफवाहें भी जुड़ी हुई हैं जिनकी वैज्ञानिक तौर पर पुष्टि नहीं हुई है।

लोगों के खानपान का रिश्ता भी सेक्सुअल परफॉरमेंस से जुड़ा माना जाता है। कई लोगों की ये राय है कि नॉन-वेजेटेरियन लोग शाकाहारी लोगों की तुलना में अपनी सेक्सुअल लाइफ ज्यादा एन्जॉय करते हैं।

शोध में सच्चाई आयी सामने

हाल ही में इस बात का पता लगाने के लिए शोध का सहारा लिया गया कि शाकाहरी और मांसाहारी लोगों में से कौन अपने निजी पलों का ज्यादा आनंद ले पाते हैं। इस अध्ययन में ये बात पता चली कि शाकाहारी लोग नॉन वेजेटेरियन लोगों के मुकाबले में अपनी सेक्स लाइफ ज्यादा अच्छे से एंजॉय करते हैं।

नॉन-वेजेटेरियन लोग बेड पर हो जाते हैं स्वार्थी

ब्रिटेन की Hucknall Dispatch के द्वारा सर्वेक्षण कराया गया जिसमें पता चलता है कि बिस्तर पर मांसाहार का सेवन करने वाले लोग स्वार्थी होते हैं। साथ ही वो शाकाहारी लोगों की तुलना में अपने सेक्सुअल लाइफ में दुखी होते हैं। इस अध्ययन में हिस्सा लेने वाले शाकाहारी प्रतिभागियों (57%) ने बताया कि वो एक सप्ताह में तीन से चार बार शारीरिक संबंध बनाते हैं। वहीं मांसाहारी लोगों (49%) ने बताया कि वो हफ्ते में एक से दो बार ही अपने पार्टनर के साथ सेक्स करते हैं। अध्ययन के बाद आयी रिपोर्ट से ये पता चलता है कि शाकाहारी लोगों की इंटिमेट लाइफ मांसाहार का सेवन करने वाले लोगों के मुकाबले में ज्यादा बेहतर और संतोषजनक होती है।

शाकाहारी लोग सेक्स के अलावा फोरप्ले में भी बेहतर

इस अध्ययन में शामिल लोगों की मदद से और भी कई बातें जानने में मदद मिल पायी है। शाकाहारी प्रतिभागियों में से 95 प्रतिशत लोगों ने माना कि वो अपनी सेक्सुअल लाइफ से संतुष्ट हैं। इतना ही नहीं, शाकाहारी लोग सेक्स का 92%, फोरप्ले का 88% और डर्टी टॉक का 48% आनंद लेते हैं। वहीं मांसाहारी लोग सेक्स का 79%, फोरप्ले का 68% और डर्टी टॉक का 35% आनंद उठा पाते हैं।

प्लांट बेस्ड डाइट से परफॉरमेंस होती है अच्छी

इस अध्ययन के निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए यूके की एक्स्ट्रा मैरिटल पोर्टल IllicitEncounters.com ने 500 शाकाहारी लोगों को शामिल किया जिनमें से 38 प्रतिशत लोग वेगन डाइट लेने वाले थे और इसके अलावा 500 प्रतिभागी मांसाहार का सेवन करने वाले लोग थे। इस अध्ययन की मदद से ये पता चलता है कि प्लांट बेस्ड डाइट से शरीर को ज्यादा एनर्जी मिलती है। इस डाइट में जिंक, विटामिन बी की मात्रा अधिक रहती है जो लोगों में कामेच्छा को बढ़ाती है। गौरतलब है कि कामेच्छा को बढ़ाने के लिए केला, एवोकाडो जैसी चीजों को लाभदायक माना जाता है। इसके सेवन से सेरोटोनिन हार्मोन का स्राव सही ढंग से होता है जो सेक्स ड्राइव को बढ़ाकर सेक्सुअल लाइफ को बेहतर बनाता है।