प्रेगनेंसी में क्‍यों जरूरी है फॉलिक एसिड, गर्भपात का खतरा भी होता है कम …
August 17th, 2020 | Post by :- | 212 Views

प्रेगनेंसी के दौरान या प्रेगनेंसी प्‍लान करते वक्‍त गर्भवती महिला को डॉक्‍टरों द्वारा फॉलिक एसिड से भरपूर खाद्य सामग्री खाने के लिए कहा जाता है। गर्भावस्था के पहले महीने से ही फॉलिक एसिड जरूर लेना चाहिए। फोलिक एसिड समय से पहले प्रसव, यानि ‘प्रीमैच्योर बर्थ’ और मिसकैरेज आदि के खतरे को भी काफी हद तक कम करता है। प्रेगनेंसी में सुपरफूड से कम नहीं हैं फोलिक एसिड। प्रेग्‍नेंसी से पहले और बाद में इसका सेवन जरूर करना चाहिए। आइए जानते हैं कि गर्भावस्‍था में फोलिक एसिड के क्‍या लाभ होते हैं।

फॉलिक एसिड के फायदे

गर्भावस्‍था में फॉलिक एसिड बहुत ही जरूरी होता है। क्‍योंकि इससे गर्भ में पल रहे बच्चे में होने वाले दिल, दिमाग और किसी भी आनुवंशिक रोगों के होने की आशंका नहीं रहती है। गर्भवती महिला के शरीर में भरपूर मात्रा में फॉलिक एसिड होने पर बच्‍चे के ब्रेन और रीढ़ की हड्डी का विकास अच्‍छी तरह होता है। गर्भधारण के एक साल पहले से फोलिक एसिड के सप्लीमेंट्स (ऐसी चीजें जिनसे शरीर को फोलिक एसिड की आपूर्ति होती हो) के सेवन से समय पूर्व प्रसव का खतरा 70 फीसदी तक घट जाता है और गर्भभपात का जोखिम भी कम होता है।

हालांकि समय से पहले पैदा होने वाले बच्चों में अंगों का विकास न हो पाना, अंधापन और फेफड़े में संक्रमण होने का खतरा रहता है। फॉलिक एसिड लेने से बच्चे में न्यूरल टय़ूब दोष नहीं होता। गर्भधारण से पहले फॉलिक एसिड लेना प्रजनन शक्ति व भ्रूण के लिए अच्छा होता है।

फॉलिक एसिड से भरपूर आहार

एवाकाडो में फॉलिक एसिड होता है। प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को खूब सारे फॉलिक एसिड की जरुरत पड़ती है तो इसे खाना बिल्‍कुल भी न भूलें। पत्‍तेदार सब्‍जियां, फलियां, साग, राजमा, साबुत अनाज और दालें, सोया उत्पादों, सेम विभाजन, अंडे की जर्दी, आलू, गेहूं का आटा, गोभी, चुकंदर, केले, ब्रोकोली, और ब्रुसेल्स के अंकुर फोलिक एसिड की मात्रा में ज्‍यादा होते हैं। जिन मछलियों में तेल पाया जाए (जैसे हेरिंग, मकरील, सालमन या सार्डिन), वे आपके बच्चे के लिए लाभदायक होती हैं।

एसिड और आयरन की कमी के कारण गर्भवती महिला को एनीमिया हो जाता है। इसके बाद प्लेसेंटा को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाती और प्रेगनेंट महिलाओं को थ्रोम्बोसिस और अधिक ब्लीडिंग हो जाती है।

कब शुरु करना चाह‍िए फॉल‍िक एसिड

गर्भावस्‍था के तीसरे से चौथे हफ्ते में जन्‍म दोष उत्‍पन्‍न होते हैं इसलिए इस दौरान शरीर में फोलेट होना बहुत जरूरी है। प्रेग्‍नेंसी के शुरुआती चरणों में शिशु के मस्तिष्‍क और स्‍पाइनल कॉर्ड का विकास होता है।

अगर आप भी प्रेगनेंसी प्‍लान कर रही हैं तो डॉक्‍टर गर्भधारण से पहले ही प्रीनैटल विटामिन के साथ फोलिक एसिड लेने की सलाह देंगे।